आधा दर्जन से अधिक शिक्षकों पर बीएसए ने की कार्रवाई

बलिया। बेसिक शिक्षा अधिकारी शिव नारायण सिंह ने आधा दर्जन अध्यापकों का वेतन काटने की कार्रवाई की है। खंड शिक्षा अधिकारी सीयर और नगरा की निरीक्षण आख्या के बाद संतोषजनक स्पष्टीकरण नहीं मिलने पर यह कार्रवाई हुई है।


बीएसए द्वारा जारी आदेश के मुताबिक, 12 दिसंबर को सीयर व नगरा के बीईओ ने निरीक्षण किया था। सीयर का प्राथमिक विद्यालय नथना सुबह 9:10 बजे बन्द मिला था। प्राथमिक विद्यालय इब्राहिमपट्टी टोला पर 9:15 बजे सहायक अध्यापक ममता गुप्ता और शिक्षा मित्र रंजना अनुपस्थित थीं। प्रावि सिउरी प्रेमरजा पर 9:40 पर सभी अध्यापक गायब थे। बीएसए ने इन सभी सहायक अध्यापक/शिक्षामित्रों का एक दिन का वेतन/मानदेय कटौती करने की कार्रवाई की है।
वहीं, शिक्षाक्षेत्र नगरा के प्राथमिक विद्यालय डिहवा पर तैनात सहायक अध्यापक सुधीर तिवारी पर आरोप है कि विद्यालय में कार्यरत रहते हुए वीडियो वायरल करके अध्यापक आचरण नियमावली का उल्लंघन किया है। साथ ही दूध वितरण की स्थिति को भ्रमित करते हुए विभाग की छवि को धूमिल करना, पंजिका अधिकृत बनाकर हस्ताक्षर करना और नियमों की अवहेलना कर पठन-पाठन में रुचि नहीं लेने का भी आरोप है। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने सहायक अध्यापक सुधीर तिवारी का वेतन अग्रिम आदेश तक रोक दिया है। साथ ही एक सप्ताह के अंदर खंड शिक्षा अधिकारी के माध्यम से आख्या मांगी है।


खंड शिक्षा अधिकारी सीयर के निरीक्षण के दौरान प्रावि डफलपुरा में एमडीएम छात्र संख्या गड़बड़ी करने की बात संज्ञान में आई। वहां पूर्व में 60-65 दैनिक संख्या दिखाई गई थी, जबकि मौके पर 42 छात्र-छात्राएं मौजूद थे। इसी तरह प्रावि कुशहा ब्राह्मण में पूर्व में छात्र संख्या 60-65 दैनिक, जबकि मौके पर 34 मिले। निरीक्षण रिपोर्ट मिलने के बाद बीएसए ने दोनों प्रधानाध्यापक को स्पष्टीकरण जारी करते हुए कहा है कि क्यों न आपके विरुद्ध वित्तीय अनियमितता के आरोप में कार्रवाई की जाए।