चोरी या खोए मोबाइल को ढूढ़ना हुआ और आसान, दिल्ली में शुरू हुई नई सेवा


अभी तक चोरी हुए मोबाइल की एफआईआर तक कराना एक मुश्किल काम रहा है। ऐसे में चोरी या गुम हुए मोबाइल को फिर से ढूंढ पाना तो लगभग नामुमकिन ही माना जाता है। मगर केंद्र सरकार ने सोमवार को एक नई सेवा शुरू की है, जिसके माध्यम से मोबाइल का पता लगाकर उसे ढूंढने में आसानी होगी। 
 

दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद ने सोमवार को एक वेब पोर्टल सीईआईआर (सेंट्रल इक्विमेंट आइडेंडिटी रजिस्टर) का शुभारंभ किया। यह वेब पोर्टल दिल्ली में चोरी या खोए हुए मोबाइल फोन को बंद करने और उसकी लोकेशन का पता लगाने की सुविधा देगा। 

इस वेब पोर्टल की शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के आधार पर मुंबई में इस साल सितंबर में हुई थी। इस प्रयोग के सफल रहने पर इसे दिल्ली में लागू किया जा रहा है। 

जानकारी के मुताबिक ग्राहकों द्वारा चोरी या खोए हुए मोबाइल फोन को ब्लॉक करने और ट्रेस करने संबंधित डेटा की जानकारी पुलिस अधिकारियों के साथ भी साझा कर सकते है।

कैसे करेगा काम 


इसके लिए आप सीईआईआर की वेबसाइट पर जाकर अपने खोए या चोरी हुए मोबाइल की जानकारी दर्ज करा सकते हैं। इसमें मोबाइल को ब्लॉक करने के टैब पर क्लिक कर फॉर्म भरना होगा। 

इस फॉर्म में मोबाइल नंबर, आईएमईआई नंबर, ब्रांड, डिवाइस मॉडल जैसी जानकारी भरनी होगी। इसके अलावा मोबाइल कहां खोया या चोरी हुआ, पुलिस शिकायत नंबर, मोबाइल किसके नाम था, जैसी जानकारियां भी दर्ज करानी होंगी।