दिल्ली से सटे सोनीपत में मिले 6 संदिग्ध, जिनकी टोपी पर लिखा है मेड इन पाकिस्तान', चंडीगढ़ तक इसको लेकर मचा हड़कंप


अटेरना गांव में शुक्रवार रात को ग्रामीणों ने छह लोगों को घूमते हुए पकड़ लिया। उनके पास मेड इन पाकिस्तान लिखी टोपी मिलने पर ग्रामीणों ने हंगामा कर दिया तो उन लोगों ने गांव में एक परिवार के यहां आने की बात बताई।


ग्रामीण उन सभी को गांव में उस परिवार के घर लेकर चले गए लेकिन वह परिवार भी उन लोगों का नाम नहीं बता सका, जिससे ग्रामीणों ने टोपी के आधार पर उन सभी के पाकिस्तानी होने का शक जताया है और उन सभी को पकड़कर कुंडली थाने लेकर गए। जहां पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है और इस पूरे मामले की गंभीरता को देखते हुए उच्च अधिकारियों और खुफिया एजेंसियों को इसकी सूचना दी गई है। 


अटेरना गांव में शुक्रवार की रात को छह लोग घूम रहे थे, जिनको ग्रामीणों ने शक होने पर रोक लिया और उनसे पूछताछ करने लगे। उन लोगों ने बताया कि वे गांव में एक परिवार के यहां आए हैं। जिनमें से उन्होंने एक व्यक्ति का नाम लिया। इसका पता चलने पर करणी सेना के जिलाध्यक्ष दीपक चौहान व अन्य वहां पहुंच गए और उन लोगों की छानबीन करने लगे तो उनके पास से मेड इन पाकिस्तान की टोपी मिली। जिससे उन छह लोगों को करणी सेना के पदाधिकारी अपने साथ उस परिवार के पास लेकर पहुंचे, जिनके यहां आने की बात उन लोगों ने बताई थी। 


उस परिवार के सदस्य भी उन लोगों के नाम नहीं बता सके तो वहां हंगामा हो गया। ग्रामीणों ने टोपी के आधार पर उन सभी के पाकिस्तानी होने का शक जताया और उन सभी को कुंडली थाने में लेकर पहुंचे। जहां कुंडली थाना पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। वहीं इस मामले में चंडीगढ़ तक उच्च अधिकारियों को अवगत कराया गया है और खुफिया एजेंसियों तक को इसकी जानकारी दी गई है। पुलिस देर रात तक उनसे पूछताछ में लगी रही और पुलिस ने पूरी स्थिति साफ होने के बाद ही कुछ बता पाने की बात कही है।


पुलिस को दी लिखित शिकायत
करणी सेना के जिलाध्यक्ष दीपक चौहान ने पकड़े गए छह युवकों पर आरोप लगाया है कि ये लोग गांव में लोगों की धार्मिक भावनाएं भड़का रहे थे। इसकी उन्होंने पुलिस को लिखित शिकायत दी है।