गुवाहाटी मे राहुल बोले कि असम को नागपुर एवं आरएसएस वाले नहीं चलाएंगे


आज कांग्रेस अपना 135वां स्थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने दिल्ली स्थित पार्टी मुख्यालय में ध्वजारोहण किया। वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा ने लखनऊ में भाजपा पर जमकर निशाना साधा। अब गुवाहाटी में पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एक रैली को संबोधित कर रहे हैं। जिसमें उन्होंने भाजपा पर नफरत फैलाने का आरोप लगाया। 


राहुल ने गुवाहाटी में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'जहां भी भाजपा जाती है, वह नफरत फैलाती है। असम में युवा प्रदर्शन कर रहे हैं। दूसरे राज्यों में भी प्रदर्शन हो रहा है। आपको क्यों उन्हें क्यों मारना और हत्या करनी पड़ी रही है? भाजपा लोगों की आवाज को नहीं सुनना चाहती।'



उन्होंने कहा, 'हम भाजपा और आरएसएस (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) को असम के इतिहास, भाषा, संस्कृति पर आक्रमण नहीं करने देंगे। असम को नागपुर नहीं चलाएगा। असम को आरएसएस वाले नहीं चलाएंगे। असम को असम की जनता चलाएगी।'
राहुल बोले- कार्यकर्ताओं के निस्वार्थ योगदान को स्वीकारते हैं।


इससे पहले राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि आज कांग्रेस का 135वां स्थापना दिवस है। मैं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी कार्यालय में ध्वजारोहण समारोह में हिस्सा लूंगा। इसके बाद गुवाहाटी में एक रैली को संबोधित करूंगा। स्थापना दिवस के दिन हम लाखों कांग्रेस पुरुषों और महिला कार्यकर्ताओ के निस्वार्थ योगदान को स्वीकार करते हैं।
झूठ से देश ऊब चुका है: प्रियंका गांधी


लखनऊ में रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि हमारे दिल में अहिंसा और करुणा हैं। कायर की पहचान हिंसा है। झूठ से देश ऊब चुका है। कायरता को देश पहचान रहा है। आवाज उठाने पर बच्चों को मार रहे हैं। पहले देश में एनआरसी की बात फैलाई, अब कह रहे हैं कि एनआरसी की चर्चा नहीं। इससे पहले प्रियंका गांधी एनआरसी और नागरिकता कानून पर संघर्ष की अगली रणनीति तैयार करने के लिए शुक्रवार शाम सात बजे लखनऊ पहुंचीं थीं।