स्कूल बस की खिड़की से सिर बाहर निकालने के कारण एक मासूम की मौत, सामने आई संचालक की लापरवाही


नोएडा से सटे गांव मनकाककी में गुरुवार शाम करीब 4 बजे स्कूल बस चालक की लापरवाही से पहली कक्षा के 6 वर्षीय मासूम की दर्दनाक मौत हो गई। बच्चे ने बस की खिड़की से अपना सिर बाहर निकाल रखा था। गांव में गली के मोड़ पर बच्चे का सिर दीवार से टकराकर बुरी तरह कुचल गया।


इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। देर शाम तक परिजनों ने इस संबंध में पुलिस को शिकायत नहीं दी थी। बाबूपुर निवासी आलम का बेटा अन्नत गांव धीरणकी स्थित एक निजी स्कूल में पढ़ता था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक स्कूल से छुट्टी होने के बाद बस चालक बच्चों को बाबूपुर छोड़ने जा रहा था।


इस दौरान अन्नत ने खिड़की से अपना सिर बाहर निकला रखा था। मनकाककी गांव में एक गली के मोड़ पर अन्नत का सिर दीवार से टकरा गया और उसकी मौत हो गई। हादसे की सूचना मिलते ही बड़ी संख्या में लोग मौके पर इकट्ठे हो गए, जिन्हें देखकर बस चालक फरार हो गया।


बस में नहीं था अटेंडेंट


ग्रामीणों के मुताबिक बस में कोई अटेंडेंट नहीं था और खिड़कियों पर ग्रिल भी नहीं लगी थी। ऐसे में स्कूल संचालक व बस चालक की लापरवाही सामने आ रही है। इस बारे में खंड शिक्षा अधिकारी यशपाल गर्ग ने बताया कि उन्हें दुर्घटना की सूचना मिल गई है। स्कूल बसों के संचालन में क्या क्या खामियां हैं, इसकी जांच करा रहे हैं।