एक भी पशु छुट्टा खुला न घूमने पाये : प्रभारी मंत्री

सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को पारदर्शिता एवं समयबद्धता के साथ क्रियान्वित करते हुए सभी पात्र व्यक्तियों को उसका लाभ दिलायें


कौशाम्बी। राज्य मंत्री लोक निर्माण विभाग उ0प्र0 एवं जनपद के प्रभारी मंत्री चन्द्रिका प्रसाद उपाध्याय की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित सम्राट उदयन सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। बैठक में प्रभारी मंत्री ने सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को पारदर्शिता एवं समयबद्धता के साथ क्रियान्वित करते हुए सभी पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित कराये जाने के लिए कहा । 


उन्होने यह भी कहा कि कोई भी अपात्र व्यक्ति योजनाओं का लाभ न लेने पाये।निराश्रित गोवंश की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि कोई भी छुट्टा पशु खुला न घूमने पाये साथ ही साथ उन्होने यह भी कहा है कि गोसंरक्षण केन्द्रों में संरक्षित किये गये पशुओं का अनिवार्य रूप से टैकिंग करा ली जाये। कहा कि ग्राम पंचायतों में भी गोसंरक्षण केन्द्र की व्यवस्था करते हुए छुट्टा पशुओं को उसमें संरक्षित करें। उन्हेने कहा कि गोसंरक्षण केन्द्रों में पशुओं के लिए ठंड से बचाव के पुख्ता इंतजाम किये जाने के साथ साथ चारा पानी विद्युत एवं साफ.सफाई की समुचित व्यवस्था रहे। 


आयुष्मान भारत योजना की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने मुख्य चिकित्साधिकारी को इस माह के अंत तक आयुष्मान भारत योजना के तहत लक्षित किये गये सभी पात्र लाभार्थियों का गोल्डेन कार्ड अभियान चलाकर बनाये जाने के लिए कहा है। साथ ही साथ उन्होने मुख्यमंत्री गोल्डेन कार्ड के पात्र लाभार्थियों का भी गोल्डेन कार्ड बनाये जाने के लिए कहा है। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने सभी पात्र लाभार्थियों का शत प्रतिशत राशन कार्ड बनाये जाने एवं आधार कार्ड से शत.प्रतिशत फीडिंग कराये जाने के लिए कहा है।


 उन्होंने कहा है कि कोई भी पात्र व्यक्ति योजना के लाभ से वंचित न होने पाये। उन्होने पारदर्शिता के साथ खाद्य वितरण कराये जाने के लिए कहा। 
किसान सम्मान निधि योजना की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि गांवो में कैम्प लगाकर किसी कमी के कारण जो किसान योजना के लाभ से वंचित रह गये है कमी को दूर करते हुए ऐसे किसानों को किसान सम्मान निधि योजना से लाभान्वित कराये जाने के लिए कहा है। 


निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने सड़कों के निर्माण सम्बन्धी कार्य को गुणवत्ता के साथ समय से पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने विद्युत विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि लोगो के द्वारा बढ़े हुए बिल की शिकायत को प्राथमिकता पर निस्तारित किया जाये जिससे कि विद्युत उपभोक्ताओं को अनावश्यक परेशानी न हो। उन्होंने खराब ट्रान्सफार्मरों को निर्धारित समय सीमा के अन्दर ठीक कराये जाने का भी निर्देश दिया। 


कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने योजना से सभी पात्र लड़कियों को लाभान्वित कराये जाने का निर्देश दिया है। पेंशन योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि कोई भी पत्र व्यक्ति पेंशन योजना से वंचित न हो। उन्होने पेंशन योजनाओं से संबंधित आवेदन पत्रों को सत्यापित कराते हुए समय से पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित कराये जाने का निर्देश दिया है। 


पाइप पेयजल परियोजना की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने अधिशासी अभियंता जल निगम को पेयजल परियोजनाओं का संचालन सुचारू ढंग से कराये जाने के लिए कहा है। साथ ही साथ उन्होने यह भी कहा है कि यदि किसी कारण कोई पेयजल परियोजना ठीक से संचालित नहीं हो रही है तो उस कमी को दूर करते हुए पेयजल परियोजना को ठीक ढंग से संचालित करने के लिए कहा। 
कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए प्रभारी मंत्री ने भूमाफियाओं शराब माफियाओं एवं खनन माफियाओं को चिन्हित करते हुए उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।


 उन्होने महिला अपराध से संबंधित प्रकरणों पर त्वरित गति से कार्रवाई करने के लिए कहा है। महिला अपराध से संबंधित प्रकरणों पर शीघ्रता से विवेचना कराये जाने के लिए पुलिस अधीक्षक श्री अभिनन्दन से कहा। 
बैठक में जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने सरकार द्वारा संचालित योजनाओं के क्रियान्वयन की प्रगति के सम्बन्ध में विन्दुवार जानकारी देते प्रभारी मंत्री को आश्वस्त करते हुए कहा कि योजानाओं के क्रियान्वयन मे उनके द्वारा जो भी दिशा निर्देश दिये गये है उसका शत.प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जायेगा। बैठक में विधायक मंझनपुर लाल बहादुर विधायक सिराथू शीतला प्रसाद उर्फ पप्पू पटेल भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीमती अनीता त्रिपाठी मुख्य विकास अधिकारी इन्द्रसेन सिंह मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 पीएन चतुर्वेदी सहित अन्य सभी संबंधित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहे।