केरल में कांग्रेस का संविधान बचाओ मार्च, वायनाड सासंद राहुल गांधी ने कहा 'मैं भारतीय हूं' यह तय करने वाले मोदी कौन हैं?

नाथूराम गोडसे और नरेंद्र मोदी एक ही विचारधारा में विश्वास करते हैं, इनमें कोई फर्क नहीं: राहुल गांधी


वायनाड ।      कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद राहुल गांधी ने केरल में सीएए विरोधी प्रदर्शनों के तहत वायनाड में संविधान बचाओ मार्च का नेतृत्व किया। इस रैली में केरल कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता शामिल हुए। राहुल गांधी ने इस अवसर पर एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि नाथूराम गोडसे और नरेंद्र मोदी एक ही विचारधारा में विश्वास करते हैं, इनमें कोई फर्क नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी में यह कहने की हिम्मत नहीं है कि वह गोडसे में विश्वास करते हैं। उन्होंने कहा कि ध्यान दें कि जब भी आप नरेंद्र मोदी से बेरोजगारी और नौकरियों के बारे में पूछते हैं, तो वह अचानक ध्यान भटकाते हैं। एनआरसी और सीएए से नौकरियां नहीं मिलने जा रही है। कश्मीर की वर्तमान स्थिति और असम को जलाने से हमारे युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है।नागरिकता कानून को लेकर राहुल गांधी ने कहा कि भारतीयों को यह साबित करने के लिए कहा जा रहा है कि वे भारतीय हैं। उन्होंने पूछा कि मैं भारतीय हूं...यह तय करने वाले नरेंद्र मोदी कौन हैं? उन्हें यह तय करने का लाइसेंस किसने दिया है कि कौन भारतीय है और कौन नहीं?  राहुल गांधी ने कहा कि मैं जानता हूं कि मैं एक भारतीय हूं और मुझे इसे साबित करने की जरूरत नहीं है।