पाक की महिला बनी सरपंच, 5 माह पहले ही भारत की ली थी नागरिकता

पाकिस्तान मूल की रहने वाली एक महिला सरपंच बन गई जिसने 5 माह पहले ही भारत की नागरिकता ली है ।  


पंचायत चुनाव के पहले चरण में टोंक के नटवाड़ा से पाकिस्तान के सिंध से भारत लौटीं नीता कँवर (36 वर्षीय) ने सरपंच का चुनाव जीता।


शुक्रवार को पहले चरण के लिए हुए चुनाव मे टोंक ज़िले की नटवाड़ा ग्राम पंचायत की उम्मीदवार नीता कँवर को 2,494 वोटों में से 1,073 वोट मिले। उन्होंने अपनी प्रतिद्वंदी सोना देवी को 362 वोटों से मात दी। बता दें कि टोंक ज़िले की नटवाड़ा ग्राम पंचायत में सात महिलाओं ने इस पद के लिए चुनाव लड़ा था। दरअसल, नीता पाकिस्तान के सिंध प्रांत की निवासी थीं और पाँच महीने पहले ही उन्हें भारत की नागरिकता मिली। 


जीत दर्ज़ करने के बाद नीता ने कहा, “मैं सभी ग्रामीणों को धन्यवाद देना चाहती हूँ जिन्होंने मुझे सपोर्ट करके मुझे जीत दिलाई। मैं अपनी पूरी ईमानदारी के साथ काम करूँगी और पंचायत के विकास के लिए कड़ी मेहनत करूँगी।


नीतू कंवर का जीवन परिचय। मूल पाक के सिंध प्रांत की रहने वाली है और पढाई के लिए वह साल 2001 मे भारत आई और राजस्थान के जोधपुर मे रहने वाले अपने चाचा वक्त सिंह सोढा के यहां रहने लगी और फिर पढाई करते हुए अजमेर के सोफिया कालेज से सन 2005 मे स्नातक की डिग्री ली । 


बाद मे नीतू कंवर की शादी टोंक जिले के नटवाडा मे लक्ष्मण सिह के पुत्र पुण्य प्रताप सिह से 19 फरवरी 2011 को शादी हो गई नीतू दो बच्चो की मां भी है ।