दिल्ली में आज हालात सामान्य, मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हुई

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल को मिली हिंसा नियंत्रण की जिम्मेदारी, कहा पुलिस को दी है खुली छूट


नई दिल्ली ।     दिल्ली हुई हिंसा के बाद आज हालात सामान्य हैं। बुधवार को दिल्ली के सभी मेट्रो स्टेशन खोल दिए गए हैं। हालांकि मृतकों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। सीएए के विरोधियों और समर्थकों के बीच रविवार से भड़की हिंसा ने मंगलवार को उग्र रूप धारण कर लिया। सबसे ज्यादा हिंसा मौजपुर और कर्दमपुरी में हुई। यहां सीएए के विरोधी और समर्थक खुलेआम फायरिंग करते रहे। डोभाल ने यह स्पष्ट कर दिया है कि अब राजधानी में कानून व्यवस्था की कोई कमी नहीं होगी। पर्याप्त संख्या में पुलिस और अर्धसैनिक बलों की तैनाती कर दी गई है। पुलिस को स्थिति नियंत्रण के लिए खुली छूट दे दी गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार(एनएसए) अजित डोभाल को दिल्ली हिंसा को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी सौंप दी गई है। वह प्रधानमंत्री और कैबिनेट को दिल्ली के हालात के बारे में जानकारी देंगे। डोभाल ने कल रात जाफराबाद, सीलमपुर और उत्तर-पूर्वी दिल्ली के अन्य इलाकों का दौरा किया था। वहां उन्होंने विभिन्न समुदायों के नेताओं से भी बातचीत की थी। गुरु तेग बहादुर अस्पताल के एमडी सुनील कुमार गुप्ता ने जानकारी दी है कि अब मरने वालों की संख्या 18 हो गई है।