DIOS का कारनामा अपराध किसी का दंड किसी को

कौशाम्बी। गुरूकुल वैदिक संस्कृत महाविद्यालय सिराथू में सहायक विभागाध्यक्ष आनन्द शास्त्री 30 जून 2016 को सेवानिवृत्त हो गये। गुरूकुल वैदिक संस्कृत महाविद्यालय में उनका 11 लाख 11 हजार 632 रूपये फंड आदि का शेष रह गया। आनन्द शास्त्री के सेवा निवृत्त के बाद उधोश्याम विश्वकर्मा अशर्फी लाल यादव शास्त्री नेपाल सिंह शर्मा इस विद्यालय के प्रधानाचार्य रहे और इन्हे के कार्यकाल में फंड के कागजातो में हेरा फेरी हुयी जिससे सेवा निवृत्त सहायक विभागाध्यक्ष का फंड नही मिल सका


 लेकिन जिन्होने अपराध किया उन्हे जिला विद्यालय निरीक्षक ने दंड नही दिया इनका हक कार्यालय से इन्हे बराबर भुगतान हो रहा है इस समय कुलदीप नारायण प्रधानाचार्य है और उन्होने बकाये फंड की पत्रावली को आगे बढायी लेकिन नेकी करने के बाद भी डीआईओएस ने ही कुलदीप नारायण का ही वेतन चार महीने पूर्व रोक दिया है। जिससे कुलदीप नारायण अपने वेतन पाने के लिये परेशान है।