हिंसाग्रस्त इलाकों में पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और सिसोदिया, अबतक 27 की मौत, 106 गिरफ्तार

केजरीवाल ने राजधानी के हालात को चिंताजनक बताते हुए गृहमंत्री को सेना बुलाने के लिए पत्र लिखा


नई दिल्ली ।    दिल्ली में बीते तीन दिनों में हुई हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 27 हो गई है जबकि कुल 189 लोग घायल हैं। तीन दिन के बाद आज दिल्ली में हालात सामान्य हैं, लेकिन कुछ इलाकों से छिटपुट पत्थरबाजी की घटनाएं सामने आ रही हैं। वहीं मुख्यमंत्री केजरीवाल ने राजधानी के हालात को चिंताजनक बताते हुए गृहमंत्री को सेना बुलाने के लिए खत लिखा है। केंद्र सरकार ने हालात को नियंत्रित करने की जिम्मेदारी अब एनएसए अजित डोभाल को सौंप दी है। सुनील कुमार, चिकित्सा अधीक्षक, गुरु तेग बहादुर (जीटीबी) अस्पताल ने बताया कि इलाज के दौरान 3 अन्य की मौत हो गई है, इसके बाद अब यहां मरने वालों की संख्या बढ़कर 25 हो गई है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ बैठक के बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल गृह मंत्रालय (MHA) से निकले। गृह सचिव अजय कुमार भल्ला और दिल्ली पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक भी बैठक में उपस्थित थे। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया हिंसाग्रस्त इलाके में हालात का जायजा लेने पहुंचे, उन्होंने यहां स्थानीय निवासियों से बातचीत भी की। अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम हालात का जायजा लेने के लिए प्रभावित इलाकों में जा रहे हैं। ऐसा करने के बाद हम आपको जानकारी देंगे।