काट दिये गये सैकडो फलदार हरे पेड

कौशाम्बी। करारी थाना क्षेत्र के अडहरा गांव और उसके आस पास की हरी भरी चार बाग देखते देखते लकडी माफियाओ ने काट डाला है। हरे पेडो को काटकर लकडी माफिया आरा मशीन उठा ले गये है। लेकिन वन विभाग के जिम्मेदार मूक दर्शक बने सैकडो फलदार हरे पेड की कटान को देखते रह गये है। 


 जानकारी के मुताबिक अडहरा गांव के पास आम और महुए की कई बाग थी जिनमें बीते डेढ महीने के बीच चार बाग के सैकडो फलदार हरे पेड को आधुनिक आरा से काट दिया गया है।


 आधुनिक आरा छोटी मशीन के शक्ल में है यह पेट्रोल डालकर इलेक्ट्रानिक मशीनो की तरह चलाया जाता है। इस आधुनिक मशीन से विशाल पेड भी कुछ मिनट में काटकर धराशाही कर दिये जाते है। करारी थाना क्षेत्र में इन दिनो दर्जनो आधुनिक मशीने माफियाओ के पास देखी जाती है। जो सुबह से हरे पेडो की कटान में लग जाती है। इन माफियाओ के साथ दर्जनो लकडहारा भी पेडो की कटान में लगे है। अडहरा गांव की हरे आम के पेड की चार बाग काटने के मामले में करारी कस्बे के एक सदस्य को माफियाओ का सरगना बताया जाता है। लकडी माफिया का करारी थाना पुलिस से लेकर वन विभाग तक मजबूत पकड है जिसके चलते लकडी माफिया के अवैध तरीके से फलदार हरे पेड की कटान पर रोक लगती नही दिख रही है। आखिर कब तक हरे पेडो को बेखौफ तरीके से काटा जाता रहेगा यह योगी सरकार की व्यवस्था पर बडा सवाल है।