अय्यास पत्नी ने प्रेमी संग मिल पति की करा दी हत्या

कौशांबी। मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के समदा गांव की एक दलित युवती ने अपने आशिक मिजाज प्रेमी के अय्याशी करने में बाधक बन रहे पति की प्रेमी और उसके साथियों के  साथ मिलकर चाकू से गोदकर हत्या करा दी है


 अय्यास पत्नी और उसके प्रेमी को हत्या करते उनके छोटे छोटे दो पुत्रों ने देखा और सुना है दलित युवक की हत्या करने के बाद लाश को किसी वाहन में लादकर हत्यारों ने समदा कोल्डस्टोरेज के पास नहर किनारे जंगल मे फेंक दिया है इस हत्याकांड का अभी तक पुलिस ने मुकदमा दर्ज नही किया है समदा गांव की कई दर्जन महिला पुरुषों ने मंझनपुर कोतवाली में हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आवाज बुलन्द की है लेकिन मामले में हत्या को दर्ज करने को पुलिस तैयार नहीं है


 जानकारी के मुताबिक मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के समदा गांव निवासी अनुसूचित जाति के उमेश कुमार सरोज उम्र लगभग 30 वर्ष पुत्र अमरनाथ सरोज मजदूरी करके जीविकोपार्जन करते हैं पति की गैर मौजूदगी में उनकी पत्नी गीता देवी की गैर मर्दों के साथ हमबिस्तर होने की आदत पड़ गई है पिछले कई वर्षों से गांव के साहबे आलम के साथ वह हमबिस्तर होने लगी इस बात की जानकारी पति उमेश कुमार को लगी तो उसने पत्नी गीता देवी की गैर मर्दों के साथ अय्यासी का विरोध किया लेकिन गीता देवी का अपने प्रेमी साहबे आलम के साथ हमबिस्तर होना नहीं बंद हुआ इसको लेकर के आए दिन गीता और उसके पति उमेश सरोज के बीच लड़ाई झगड़ा हुआ करता था दोनों की लड़ाई मंझनपुर कोतवाली तक पहुँची लेकिन पुलिस ने ठोस कार्यवाही नही की इस बात की पुष्टि गांव के लोग भी कर रहे हैं 


बीते गुरुवार की रात को साहिबे आलम अपने तीन अन्य साथियों के साथ उमेश सरोज के घर पहुंचा और वहां जमकर उसने शराब पी और वहीं पर गीता देवी ने अय्यासी में दोनों के बीच अवरोध बन रहे पति उमेश को रास्ते से हटाने की योजना बनाई गीता देवी के दो बच्चे और गौरव ने साहिबे आलम उनके साथियों की हत्या की प्लानिंग को सुना लेकिन छोटे हो होने के चलते वह पिता की हत्या को रोक नहीं सके और हत्यारों ने खुलेआम घर के पीछे घसीट कर उमेश को चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी और लाश को किसी वाहन में लादकर समदा कोल्डस्टोरेज के पीछे नहर के किनारे ले जाकर जंगल में फेंक दिया


सुबह ग्रामीणों ने मामले की सूचना मंझनपुर पुलिस को दी सूचना पाकर मौके पर मंझनपुर कोतवाली पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर मौत की पुष्टि के लिए जिला अस्पताल भेजा मौत की पुष्टि चिकित्सको ने कर दी जिस पर पुलिस ने युवक की लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है लेकिन लाश मिलने की घटना के कई घंटे बीत जाने के बाद भी मंझनपुर कोतवाली पुलिस ने पत्नी उसके प्रेमी और उनके साथियों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी का प्रयास नहीं किया है हत्यारों की गिरफ्तारी न करना और मुकदमा दर्ज करने में हीलाहवाली के चलते मंझनपुर कोतवाली पुलिस पर हत्यारो से साठगांठ का बदनुमा दाग लग रहा है तहरीर लेकर परिजनों के साथ ग्रामीण पुलिस कप्तान से मिलने गए है।