नागरिक सत्याग्रह पदयात्रा लेकर कौशाम्बी पहुँचे कांग्रेसी

कौशाम्बी। रविवार सुबह सत्याग्रही सर्वधर्म प्रार्थना के बाद  स्वराज विद्यापीठए इलाहाबाद से पैदल कौशाम्बी ;कसेंदाद्ध के लिए निकले।
बालसन चौराहे पर स्थित गांधी प्रतिमा के समक्ष माल्यार्पण किया और बापू को नमन करते हुए हिंसा के खिलाफ़ शांति और सौहार्द का संदेश लेकर पैदल चलने की शक्ति देने की प्रभु से प्रार्थना की आनंद भवन होते हुए यात्रा आजाद पार्क पहुँची जहां शहीद चन्द्रशेखर की मूर्ति पर फूल.माला चढा़कर उनकी शहादत को याद करते हुए यात्रा आगे बढीए इसके बाद यात्रा सिविल लाइंसए जॉन्सनगंजए स्टेशनए लूकरगंजए राजरूपपुरए झलवाएरहीमाबादए भगवतपुरए कदिलापुर होते हुए कसेंदा में पहुँचीए जहां यात्रियों ने रात्रि विश्राम लिया।


यह नागरिक सत्याग्रह पद यात्रा का 29 वां दिन था पिछले दो दिन से यह यात्रा प्रयागराज के स्वराज विद्यापीठ में ठहरी थी और इविविए संगठक कालेज तथा विभिन्न हास्टलों में जाकर गांधी का संदेश दे रही थी। सत्याग्रहियों ने शनिवार शाम रोशनबाग प्रदर्शन स्थल जा कर आंदोलनकारी महिलाओं के समर्थन में आवाज बुलंद की। 


यात्रियों ने आंदोलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारी लड़ाई किसी भाजपा आरएसएस से नही बल्कि खुद अपने अंदर की नफरत से है जो हमे अपने मूल अधिकारों की लड़ाई से दूर कर रही है। दिल्ली हिंसा में मारे गए नागरिको को नमन करते हुए यात्रियों ने एन्टी ब्।। आंदोलन में जान गवाने वाले सभी लोगो के परिवारों के साथ खड़ा होने के लिए आह्वान भी कियाए तथा सभी से सद्भावना तथा इंसानियत के रास्ते चलने का वादा भी लिया। 


सभा को संबोधित करते हुए यात्री मनीष शर्मा ने कहा कि यह यात्रा ब्।।ध्छत्ब् विरोध प्रदर्शन के पक्ष . विपक्ष में मारे गए उन 67 लोगों के परिवार के साथ हैए और हम अगर इस मुल्क में बुनियादी मुद्दों पर राजनीति चाहते हैंए तो हमे स्वयं के अंदर के नफरत को मारना होगा और बँटवारे की राजनीति से दूर रहना होगा। गांधी के इस देश मे शिक्षा और रोजगार की राजनीति पर बात करने के लिए हमे नफरत और द्वेष से दूर होना पड़ेगा।और ऐसे मुश्किल वक़्त में उन 67 परिवारों के साथ खड़ा होना पड़ेगाए और देश.समाज को नागरिक निर्माण की ओर बढ़ाना होगा।


यात्रा कर रहे कार्यकर्ताओ ने बताया की छात्रों सामाजिक राजनैतिक कार्यकर्ताओ के साझी पहलकदमी से शुरू हुई यह यात्रा समाज मे बढ़ रही असहिष्णुता ए हिंसा ए घृणा और कट्टरता के ख़िलाफ़ भाई चारे प्रेम सद्भाव और सहिष्णुता की अपील के साथ सड़को पर गुजर रही है। नागरिक सत्याग्रह पदयात्रा की शुरुआत चौरी.चौरा के शहीद स्मारक से गत 2 फरवरी 2020 को हुई है।  


लगभग 500 किमी की पदयात्रा करके ये सत्याग्रही इलाहाबाद से आगे बढ़कर कसेन्दा पंहुचे हैं। यात्रा अपने 30 वें दिनए सोमवार सुबह कसेन्दा से अगले पड़ाव करारी की ओर रवाना हुई। यात्रा में मुख्य रूप से पूर्ब जिलाध्यक्ष कांग्रेस तलत अज़ीमए मनीष शर्माए नीरजए मुरारीए शेष नारायण ओझाए प्रभात कुमार चंद्रवंशीए जितेश मिश्राए अक्षय यादवए विकास सिंह ए जितेश मिश्रा एअखिलेश यादव एजिला अल्पसंख्यक चेयरमैन तमजीद अहमदए उदय यादवए धर्मेन्द्र कुमारए कामरान अज़ीमए अलक़ाब सिद्दीकीए फरमानए फहीमए प्रमोद कुमारए सुखलाल यादवएनरेंद्र यादवए शाहबाज़ अहमदए दीपक कुमारए रमेश पाल आदि रहे।