टोल प्लाजा के गुंडे जबरिया वसूलते है धन।

कोखराज कटोघन हंडिया टोल प्लाजा में सरकार के निर्धारित रेट के विपरीत मनमानी रेट पर टोल कर्मी वाहन चालको से करते है वसूली।


कौशाम्बी। राष्ट्रीय राज्य मार्ग प्राधिकरण द्वारा जगह जगह पर टोल प्लाजा बनाये गये है जहॉ से गुजरने वाले वाहनो से टोल प्लाजा के गुडे वाहन चालको को आतंकित कर जबरिया धनादोहन कर रहे है कौशाम्बी जिले के सिहोरी कोखराज बरीपुर टोल प्लाजा के साथ साथ खागा कटोघन टोल प्लाजा और हंडिया बाइपास टोल प्लाजा में नियम विरूद्ध रेट निर्धारित कर सैकडो करोड की वसूली इन तीनो टोल प्लाजा में प्रत्येक वर्ष हो रही है। अवैध वसूली जॉच का विषय है और भारत सरकार ने अवैध वसूली की जॉच करायी तो टोल प्लाजा का ठेका निरस्त होने के साथ जिम्मेदारो का जेल जाना तय है। 


 गौरतलब है कि सरकार द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार टोल प्लाजा का संचालन नही किया जा रहा है इतना ही नही सरकार द्वारा बनाये गये नियमो की धज्जिया उडाते हुए अपने द्वारा निर्धारित मनमानी रेट पर टोल टैक्स वाहन चालक से वसूली हो रही है। बीते कई वर्षो से मनमानी रेट पर टोल टैक्स वसूली के मामले में अभी तक राष्ट्रीय राज्य मार्ग प्राधिकरण के जिम्मेदारो ने मामले को संज्ञान नही लिया है जिससे टोल प्लाजा में वसूली में लिप्त गुंडो का मनोबल बढा हुआ है। 


 टोल प्लाजा में मनमानी रेट पर वसूली का आलम यह है कि अब टोल कर्मियो ने फास्ट ट्रैक लेन के नाम पर एक लेन को रिजर्व कर दिया है और इस लेन से गुजरने वाले वाहनो से निर्धारित दर से दोगुना की वसूली की जाती है पहले ही निर्धारित दर में मनमानी रेट टोल कर्मियो ने लगा रखा है और दूसरी तरफ फास्ट टै्रक लेन के नाम पर दोगुनी राशि वसूलना कहा तक न्याय संगत होगा यह बडा जॉच का विषय है लेकिन अभी तक टोल प्लाजा में गुंडो की अवैध वसूली को भारत सरकार ने संज्ञान नही लिया है। 
टोल प्लाजा में तत्काल दुर्घटना सहायता दिये जाने का निर्देष दिया गया है लेकिन शुरू के कुछ वर्षो के बाद तत्काल दुर्घटना सहायता बन्द करा दी गयी है जिससे दुर्घटना के बाद सडको पर घंटो जाम लगते है और समय पर इलाज न मिलने से दुर्घटना ग्रस्त लोगो की मौत हो जाती है आखिर टोल प्लाजा के जिम्मेदारो की लापरवाही के चलते लोगो की हो रही मौत का जिम्मेदार कौन होगा यह व्यवस्था पर बडा सवाल है। राष्ट्रीय राज्य मार्ग के एक हिस्से में धर्म काटा टोल कर्मियो ने स्थापित कर दिया है अब यह धर्म काटा उपयोग में तो नही है लेकिन सडक अवरूद्ध है जिससे समय बर्बाद होता है सडके जाम होती है। टोल प्लाजा के 25 किमी दायरे में रहने वाले लोगो से टोल टैक्स वसूली पर सरकार ने छूट दे रखी है लेकिन टोल कर्मियो की अभद्रता गुंडई और बत्तमीजी से त्रस्त होकर मजबूर होकर वाहन स्वामी इनकी नजायज मांगो को मानने को विवश है और सरकार के रोक के बाद भी स्थानीय लोग भी टोल टैक्स अदा कर टोल प्लाजा पार कर रहे है। टोल प्लाजा में बीते कई वर्षो से वाहन चालको के शोषण की आड में हजारो करोड रूपया टोल प्लाजा के जिम्मेदार प्रत्येक वर्ष अवैध तरीके से वसूल रहे है जो बडा जॉच का विषय है और इस मामले में भारत सरकार ने सूक्ष्म जॉच करायी तो टोल प्लाजा की वसूली का ठेका निरस्त होने के साथ साथ टोल प्लाजा के जिम्मेदारो का जेल जाना तय है।


Popular posts
वीएलसीसी (VLCC) ने उत्तर प्रदेश में २० वर्ष पुरे किए, २० नए वेलनेस सेंटर और १० कौशल विकास संस्थान ( स्किल डेवेलपमेंट इंस्टीटयूट्स ) खोलने के लिए तैयार है।
Image
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को देश के अलग-अलग हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के स्थानांतरण को दी मंजूरी
Image
सपा लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामकुमार निर्मल म्योहर पहुंचे
Image
दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों शीतलहर की चपेट में
Image
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image