जिलाधिकारी के आदेशों को हल्के में ले रहे अहिरोरी के प्रधान व ब्लॉक के कर्मचारी


 बीडीओ अमरेश सिंह चौहान का तो नंबर ही बंद आ रहा है।
 ब्लॉक के सचिव फर्जी रिपोर्टिंग कर कागजों का कोरम पूरा कर रहे हैं।
नोयडा जैसी अनहोनी की रास्ता देख रहे ब्लॉक के बीडीओ, एडीओ से लेकर ग्राम सचिव।
हांलाकि अहिरोरी सीएचसी प्रभारी अपनी टीम के साथ ब्लॉक की ग्रामपंचायतों में दौरा कर जरूर प्रयास रत हैं
लेकिन ब्लॉक कर्मचारी नही कर रहे कोऑपरेट।



-कोरोना जैसी महामारी से लड़ने के लिए जहाँ एक ओर सूबे के मुखिया प्रदेश के विभिन्न जगहों का दौरा कर स्थिति को संभाल रहे हैं।
 वहीं दूसरी ओर अहिरोरी ब्लॉक में जिलाधिकारी व मुख्यविकास अधिकारी के बावजूद भी बीडीओ से लेकर ग्राम सचिव व ग्राम प्रधान  इसको लेकर कोई दिलचस्पी नही दिखा रहे हैं ।
दिल्ली ,नोयडा ,हरियाणा, महाराष्ट्र ,आदि जगहों से आये सैकड़ो लोग गांवो में ही आबादी के बीच रह रहे हैं ।जिनकी ना ही अभी कोई प्राथमिक जाँच की गयीं है और ना ही इनको गाँव से बाहर पंचायत भवनों में आइसोलेट किया गया है।जिससे ग्रामीणों में कभी भयावाह स्थिति बन गयी है ।
ब्लॉक के हांस बरौली,बसेन,संदाना, खेरवा कमालपुर,आर्मी ,गोबर्धनपुर ,गोपार, नीभी ,आदि गाँवो में अभी तक प्रधानों व सचिवो के द्वारा हाल में ही बाहर से आये लोगों की कोई ब्यवस्था नही की गयी है । जिससे जिलाधिकारी के आदेशो की धज्जियां उड़ रही हैं ।
तथा लोगों में भयावाह स्थिति बनी हुई है।इस पूरे मामले में बीडीओ अहिरोरी से बात करनी चाही तो उनका मोबाइल फोन बंद आ रहा है।


Popular posts
वीएलसीसी (VLCC) ने उत्तर प्रदेश में २० वर्ष पुरे किए, २० नए वेलनेस सेंटर और १० कौशल विकास संस्थान ( स्किल डेवेलपमेंट इंस्टीटयूट्स ) खोलने के लिए तैयार है।
Image
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को देश के अलग-अलग हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के स्थानांतरण को दी मंजूरी
Image
सपा लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामकुमार निर्मल म्योहर पहुंचे
Image
दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों शीतलहर की चपेट में
Image
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image