दिल्ली में इस साल मई के महीने में 144.8 मिली मीटर यानी पांच इंच से ज्यादा बारिश हुई
दिल्ली में इस साल मई के महीने में 144.8 मिली मीटर यानी पांच इंच से ज्यादा बारिश हुई है, जो एक रिकॉर्ड है। इससे पहले 1976 में दो इंच से ज्यादा बारिश हुई थी। यानी इस बार 45 साल का रिकॉर्ड टूटा है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पहले पश्चिमी विक्षोभ और फिर ताउते चक्रवात के चलते &…
Image
मध्यप्रदेश में एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू, मॉल, सिनेमाघर, कोचिंग आदि को पहले चरण में नहीं खोला जाएगा
मध्यप्रदेश में एक जून से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू होगी। इस प्रक्रिया के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को कैबिनेट की सब कमेटी बनाने का एलान किया। उन्होंने बताया कि प्रभारी मंत्री जिलों का दौरा करेंगे और क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप से सुझाव लेंगे, जो राज्यस्तरीय मंत्रियों की कमेटी को दिए …
कोरोना पीडितों के लिए हर दम तैयार है राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा परिषद
कोरोना पीडितों के लिए हर दम तैयार है राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा परिषद ( संस्था द्वारा समय समय पर अनेको अभियान चलाये जाते रहते है ) सामाजिक संस्था राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा परिषद अपने सामाजिक दायित्व को निभाने के लिए इस महामारी के दौर में पूर्णतयः समर्पित है ग्रामीण क्षेत्रों में बीमारी बढ़ने …
Image
ताउते के बाद अब देश के पूर्वी तटीय क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान यास का खतरा देखते हुए सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए भारतीय रेलवे ने 10 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों को अस्थायी तौर पर रद्द
ताउते के बाद अब देश के पूर्वी तटीय क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान यास  का खतरा मंडरा रहा है। बंगाल की खाड़ी में उठने वाला चक्रवात यास की आशंका को देखते हुए सुरक्षात्मक कदम उठाते हुए भारतीय रेलवे ने 10 जोड़ी स्पेशल ट्रेनों को अस्थायी तौर पर रद्द कर दिया है। इनमें से सात जोड़ी ट्रेनें पीडीडीयू जंक्शन स…
Image
आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या तेजी, शनिवार शाम साढ़े सात बजे तक 17 मरीज भर्ती हो चुके थे। इसमें से 12 मरीज गंभीर
आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। शनिवार शाम साढ़े सात बजे तक 17 मरीज भर्ती हो चुके थे। इसमें से 12 मरीज गंभीर हालात में हैं। आगरा के अलावा आसपास के जिलों से ब्लैक फंगस के मरीज गंभीर अवस्था में पहुंच रहे हैं।  मेडिकल कॉलेज में शुक्रवार को शाम तक महज सा…
Image
कोविड इलाज में एलोपैथिक दवाओं के विवादित बयान से घिरे योग गुरु बाबा रामदेव के बचाव में आचार्य बालकृष्ण खुलकर उतर आए
कोविड इलाज में एलोपैथिक दवाओं के विवादित बयान से घिरे योग गुरु बाबा रामदेव के बचाव में आचार्य बालकृष्ण खुलकर उतर आए हैं। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि बाबा रामदेव की मंशा एलोपैथिक दवाओं पर टिप्पणी करने की नहीं थी। वो सिर्फ व्हाट्सएप मैसेज पढ़ रहे थे।  योग गुरु बाबा रामदेव की दो मिनट 19 सेकेंड का एक व…
Image