यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को निर्देश दिया कि प्रदेश की टेस्टिंग क्षमता 10 हजार की जाए


लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को निर्देश दिया कि प्रदेश की टेस्टिंग क्षमता बढ़ाई जाए जिससे कि प्रदेश में हर रोज 10 हजार कोविड टेस्ट किए जा सकें। उन्होंने माइक्रोप्लानिंग करके टेस्टिंग लैब व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री शुक्रवार को लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर लॉकडाउन की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि मेडिकल कॉलेजों सहित सभी चिकित्सालयों में डॉक्टर नियमित रूप से राउण्ड लें। अस्पतालों में पीपीई किट, एन-95 मास्क, ट्रिपल लेयर मास्क, ग्लव्स और सैनिटाइजर जैसी संक्रमण से बचाने वाली सामग्री के साथ-साथ स्ट्रेचर और व्हीलचेयर की भी पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने मेडिकल कॉलेजों से नियमित संवाद रखते हुए कार्यों की जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी कामगारों व श्रमिकों की प्रदेश वापसी के लिए संकल्पबद्घ है। इसके लिए श्रमिकों व कामगारों की सूची अन्य राज्यों से प्राप्त की जाए जिससे कि उनके लिए निशुल्क ट्रेन की व्यवस्था करवाई जाए।
वहीं, उन्होंने ये भी कहा कि उत्तर प्रदेश में कार्यरत विभिन्न राज्यों के कामगार व श्रमिक जो वापस जाने के इच्छुक हों उनकी सकुशल वापसी के लिए सूची विभिन्न राज्य सरकारों को भेजी जाए।


Popular posts
मुख्य सचिव श्री राजेंद्र प्रसाद तिवारी जी से किसानों एवं किसान मित्र योजना को लेकर  वार्ता
रामजन्मभूमि निर्माण निधि महाअभियान के नाम पर फर्जीवाड़े का मामला, भाजपा नेताओं की तहरीर पर सिविल लाइंस पुलिस ने केस दर्ज
Image
उत्तर प्रदेश के बड़ौत के धरने पर रात के समय किसानों पर किए गए लाठीचार्ज के विरोध में आज बड़ौत तहसील में महापंचायत में रालोद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जयंत चैधरी भी शामिल होंगे
Image
यूपी के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने सरस्वती पुरम में बांटी राहत सामग्री
Image
सीबीएसई की ओर से सेंट्रल टीचर एलिजबिलिटी टेस्ट (सीटेट) में रविवार को 101 केंद्रों पर 52 हजार अभ्यर्थी शामिल होंगे
Image