यूपी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को निर्देश दिया कि प्रदेश की टेस्टिंग क्षमता 10 हजार की जाए


लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को निर्देश दिया कि प्रदेश की टेस्टिंग क्षमता बढ़ाई जाए जिससे कि प्रदेश में हर रोज 10 हजार कोविड टेस्ट किए जा सकें। उन्होंने माइक्रोप्लानिंग करके टेस्टिंग लैब व्यवस्था को बेहतर बनाने के निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री शुक्रवार को लखनऊ स्थित अपने सरकारी आवास पर लॉकडाउन की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि मेडिकल कॉलेजों सहित सभी चिकित्सालयों में डॉक्टर नियमित रूप से राउण्ड लें। अस्पतालों में पीपीई किट, एन-95 मास्क, ट्रिपल लेयर मास्क, ग्लव्स और सैनिटाइजर जैसी संक्रमण से बचाने वाली सामग्री के साथ-साथ स्ट्रेचर और व्हीलचेयर की भी पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने मेडिकल कॉलेजों से नियमित संवाद रखते हुए कार्यों की जानकारी प्राप्त करने के निर्देश दिए।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश सरकार सभी कामगारों व श्रमिकों की प्रदेश वापसी के लिए संकल्पबद्घ है। इसके लिए श्रमिकों व कामगारों की सूची अन्य राज्यों से प्राप्त की जाए जिससे कि उनके लिए निशुल्क ट्रेन की व्यवस्था करवाई जाए।
वहीं, उन्होंने ये भी कहा कि उत्तर प्रदेश में कार्यरत विभिन्न राज्यों के कामगार व श्रमिक जो वापस जाने के इच्छुक हों उनकी सकुशल वापसी के लिए सूची विभिन्न राज्य सरकारों को भेजी जाए।


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नारदा घोटाला मामले में आरोपी टीएमसी नेताओं को नजरबंद करने के कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया
Image
मौसी के घर रह रहे बालक की बुधवार को मौसा ने हत्या कर गांव के ही कब्रिस्तान में शव दफनाया
Image
नाबालिग बेटी बोली जब से लॉकडाउन हुआ है तब से पिता रोजाना जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता है
Image
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद शैक्षणिक कैलेंडर जारी
Image