पतंजलि योगपीठ के सीईओ आचार्य बालकृष्ण का दावा, कोरोना के इलाज के लिए आयुर्वेदिक दवा तैयार 


पतंजलि योगपीठ के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने शनिवार को दावा किया कि कोरोना वायरस को फैलने से रोकने और संक्रमितों को ठीक करने की आयुर्वेदिक दवा तैयार हो चुकी है। उन्होंने कहा कि दवा का पहले चरण में क्लिनिकल ट्रायल पूरा हो चुका है। इसका सौ फीसदी नतजा आया है। सैकड़ों मरीज इस दवा से ठीक हुए हैं। उन्होंने कहा कि अगले तीन-चार दिनों में ठीक हुए मरीजों के डेटा के साथ सारे सबूत दुनिया के सामने रखेंगे। 


आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि जब कोरोना वायरस फैलना शुरू हुआ था तो हमने वैज्ञानिकों की टीम शोध के लिए लगा दी थी। इन वैज्ञानिकों ने कोरोना से लड़ने, उसे फैलने और ठीक करने के लिए जड़ी-बूटियों की पहचान की। इन्हें पूरी प्रक्रिया के लिए तैयार करने के बाद ही ट्रायल किया गया। हमने सैकड़ों कोरोना पॉजिटिव मरीजों को ये दवा दी और इसका 100 फीसदी नतीजा आया।
 
बालकृष्ण ने कहा कि जिन कोरोना संक्रमितों को ये दवा दी गई उनमें 70 से 80 फीसदी मरीज महज पांच से छह दिन में ठीक हुए हैं। सभी मरीज दवा लेने के अधिकतम 14 दिन के भीतर ही स्वस्थ हो गए। ऐसे सभी मरीज बाद में कोरोना निगेटिव पाए गए। उन्होंने कहा कि गंभीर मरीजों को भी यह दवा दी गई और वह भी स्वस्थ हो गए। मरीजों की कफ, बुखार और सांस लेने में दिक्कत जैसी गंभीर समस्या भी दूर हो गई। 


उन्होंने कहा कि कोरोना का इलाज आयुर्वेद से 100 फीसदी संभव है। हमें क्लिनिकल ट्रायल में सफलता मिली है। अब क्लिनिकल कंट्रोल ट्रायल कर रहे हैं। अभी तक इसमें भी सकारात्मक नतीजे मिले हैं। आने वाले तीन-चार दिनों में हम इसका पूरा विवरण दुनिया के सामने सबूतों के साथ रखेंगे। 


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नारदा घोटाला मामले में आरोपी टीएमसी नेताओं को नजरबंद करने के कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया
Image
मौसी के घर रह रहे बालक की बुधवार को मौसा ने हत्या कर गांव के ही कब्रिस्तान में शव दफनाया
Image
नाबालिग बेटी बोली जब से लॉकडाउन हुआ है तब से पिता रोजाना जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता है
Image
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद शैक्षणिक कैलेंडर जारी
Image