राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आवश्यक वस्तु कानून में संशोधन को दी मंजूरी, में किसानों के हितों को देखते हुए सुधार किए गए


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आवश्यक वस्तु (संशोधन) अध्यादेश अधिनियम 2020 को अनुमति दे दी है। बता दें कि हाल ही में हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में इस कानून में संशोधन को अनुमति दी गई थी और किसानों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से कई कृषि उत्पादों को इस कानून के दायरे से बाहर कर दिया था। 



बता दें कि आवश्यक वस्तु कानून में बदलाव की कोशिशें कई साल से चल रही थीं। सरकार कोरोना वायरस के चलते लागू लॉकडाउन के दौरान इसमें संशोधन लाई है। इसके तहत अनाज, तेल, प्याज और आलू आदि को इस कानून से बाहर कर दिया गया है। सरकार का कहना है कि किसानों को इससे काफी फायदा होगा।
आवश्यक वस्तु कानून में बदलाव को लेकर काफी वर्षों से प्रयास हो रहा था. लॉकडाउन के दौरान सरकार ने इसमें बदलाव की जो बात की है, उसमें कहा यह जा रहा है कि इससे किसानों को बहुत फायदा होगा.' इस बदलाव के तहत अनाज, तेल, प्याज, आलू को बाहर रखा गया है. 


केंद्रीय कैबिनेट की बैठक के बाद हुई प्रेस वार्ता में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा था कृषि उत्पादों की बहुतायत की वजह से बंधन वाले कानूनों की जरूरत नहीं है। आवश्यक वस्तु कानून में किसानों के हितों को देखते हुए सुधार किए गए हैं। 


इसके साथ ही कैबिनेट ने फैसला किया था कि किसान अब एपीएमसी से बाहर भी अपनी उपज बेच सकेंगे। सरकार का इस फैसले के पीछे उद्देश्य किसानों की आय में बढ़ोत्तरी करना है। इस फैसले से किसान अब अपनी उपज केंद्र के बजाय सीधे निर्यातक को भी बेच सकेंगे।


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नारदा घोटाला मामले में आरोपी टीएमसी नेताओं को नजरबंद करने के कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया
Image
मौसी के घर रह रहे बालक की बुधवार को मौसा ने हत्या कर गांव के ही कब्रिस्तान में शव दफनाया
Image
नाबालिग बेटी बोली जब से लॉकडाउन हुआ है तब से पिता रोजाना जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता है
Image
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद शैक्षणिक कैलेंडर जारी
Image