डीजल की चोरी का मामला जांच में सामने जिस पर पुलिस ने जालसाजी व सरकारी संपत्ति के नुकसान करने का मुकदमा दर्ज


उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम की कार्यशाला चारबाग डिपो के केंद्र प्रभारी ने सरोजनीनगर थाने में 12 संविदा चालकों के खिलाफ तहरीर दी। जिस पर पुलिस ने जालसाजी व सरकारी संपत्ति के नुकसान करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं इन संविदा चालकों को पहले काली सूची में डालकर निलंबित कर दिया गया है।


प्रभारी निरीक्षक आनंद कुमार शाही के मुताबिक केएम शुक्ला परिवहन निगम के कार्यशाला चारबाग डिपो के केंद्र प्रभारी है। केंद्र प्रभारी ने बताया कि कोविड-19 के दौरान बस संचालन के दौरान अपने पूर्ण गंतव्य स्थान तक वाहन को न संचालित कर रास्ते से वापस लाकर बचे हुए किलोमीटर के संचालन भरकर डीजल की चोरी का मामला जांच में सामने आया। इस जांच में 12 संविदा चालकों को दोषी पाया गया। जिनको काली सूची में डाल दिया गया। इसके बाद सभी को निलंबित कर दिया गया।
केंद्र प्रभारी के मुताबिक इन सभी के खिलाफ उच्चाधिकारियों के निर्देश पर मुकदमा दर्ज कराया गया है। आरोपी संविदा चालकों में उमाशंकर, सुरेंद्र कुमार, महेश कुमार, दिलीप कुमार, सुमिरन, राम कुमार सिंह, ज्ञानेंद्र सिंह, राकेश कुमार अवस्थी, सुरेश चंद्र यादव, श्रीनाथ वर्मा, प्रेमशंकर पाल और सुनील कुमार वर्मा के खिलाफ अमानत में ख्यानत और जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया गया है। प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक मामले की जांच की जा रही है।


Popular posts
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image
गंदा पानी पीने को मजबूर कस्बा वासी 10 साल बीते नही हो सकी पानी टंकी से सप्लाई
Image
अमरनाथ यात्रा 2021 के लिए 15 अप्रैल से ऑनलाइन अग्रिम यात्री पंजीकरण प्रक्रिया शुरू
Image
बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर नवरात्र व रमजान से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को स्वयं की सुरक्षा व बचाव के लिए जोर दिया
Image
जिला पंचायत के चुनाव में भाजपा ने कड़ा रुख अपनाया, 63 प्रत्याशियों की सूची पार्टी की ओर से किया जारी
Image