केंद्र सरकार से राष्ट्रीय आपदा मोचक निधि प्रदेश सरकार ने बाढ़ प्रभावित जिलों में 802.25 करोड़ रुपये की राहत


प्रदेश सरकार ने बाढ़ प्रभावित जिलों में राहत के लिए केंद्र सरकार से राष्ट्रीय आपदा मोचक निधि से 802.25 करोड़ रुपये की मांग की है। अपर मुख्य सचिव राजस्व रेणुका कुमार ने इस बाबत केंद्रीय गृह सचिव अजय कुमार भल्ला को मांग पत्र भेजा है। इस पर अब केंद्र को ही फैसला करना है।


प्रदेश में भारी बारिश से 24 जिले में धान, मक्का, तिल, अरहर, गन्ना, मूंगफली, बाजरा व सब्जी आदि की फसलों को काफी नुकसान हुआ है। जबकि बाढ़ से जनहानि, पशुहानि के साथ मकान व सार्वजनिक संपत्तियों की भी क्षति हुई है। गौरतलब है कि केंद्रीय टीम बाढ़ से नुकसान का आकलन कर पिछले दिनों यहां लौट चुकी है।
इन मदों में मांगी गई सहायता
कृषि फसलों को नुकसान- 176.38 करोड़
पशु हानि व पशुपालन पर व्यय- 2.70 करोड़
मत्स्य पर अनुमानित व्यय- 0.26 करोड़
नष्ट हुए मकानों के अनुमानित मूल्य- 5.27 करोड़
जनहानि, राहत सामग्री व अन्य सहायता- 196.33
सार्वजनिक परिसंपत्तियों की तात्कालिक मरम्मत- 421.31 करोड़


इन जिलों में सहायता मांगी
बाराबंकी, सीतापुर, बहराइच, बलरामपुर, अंबेडकरनगर, अयोध्या, गोंडा, श्रावस्ती, फर्रुखाबाद, लखीमपुर खीरी, पीलीभीत, बस्ती, संतकबीरनगर, मऊ, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, देवरिया, बदायूं, बलिया, आजमगढ़, शाहजहांपुर व कासगंज।


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नारदा घोटाला मामले में आरोपी टीएमसी नेताओं को नजरबंद करने के कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया
Image
मौसी के घर रह रहे बालक की बुधवार को मौसा ने हत्या कर गांव के ही कब्रिस्तान में शव दफनाया
Image
नाबालिग बेटी बोली जब से लॉकडाउन हुआ है तब से पिता रोजाना जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता है
Image
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद शैक्षणिक कैलेंडर जारी
Image