सरकार के तमाम दावों के विपरीत नए पेराई सीजन की शुरुआत 6900 करोड़ रुपये बकाया


सहकारी क्षेत्र की एक और निजी क्षेत्र की दो चीनी मिलों में गन्ना पेराई शुरू हो गई है। सरकार के तमाम दावों के विपरीत नए पेराई सीजन की शुरुआत 6900 करोड़ रुपये बकाया गन्ना मूल्य के साथ हुई है। पिछले कई सालों में नए सीजन के प्रारंभ में पुराना गन्ना मूल्य अवशेष इतना नहीं रहा।


गन्ना आयुक्त संजय आर भूसरेड्डी ने बताया कि सहकारी क्षेत्र की मोरना (मुजफ्फरनगर), निजी क्षेत्र की मझावली (संभल) और बेलवाडा (मुरादाबाद) चीनी मिलों में गन्ना पेराई कार्य आरंभ हो गया है। उन्होंने बताया कि लगभग 45 चीनी मिलों ने पेराई शुरू करने के लिए गन्ना खरीद शुरू कर दी है।
उन्होंने कहा कि समय से पेराई सत्र शुरू होने से किसान अपना पेड़ी गन्ना की आपूर्ति कर खाली खेत में रबी फसल की बुवाई कर सकेंगे। हालांकि, गन्ना मूल्य भुगतान की स्थिति बहुत बेहतर नहीं रही है। प्रदेश की चीनी मिलों पर गन्ना किसानों का पिछले वर्ष का 6900 करोड़ रुपये गन्ना मूल्य भुगतान है।


Popular posts
माघ मेले में रेलवे की तैयारियां 14 दिन के मंथन के बाद भी शून्य, ऐसे में यात्रियों का परेशान होना तय
Image
हरिद्वार में 2021 में प्रस्तावित महाकुंभ का स्वरूप भव्य और दिव्य होने का दिया संकेत
Image
फिल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी व उनकी मां पर करोड़ों की ठगी का आरोप
Image
आईसीसी ने बिश्नोई समेत भारत-बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों पर की कार्रवाई, अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में हुए विवाद के बाद आईसीसी ने उठाया सख्त कदम
स्वामित्व योजना के अंतर्गत तैयार किए गए प्रॉपर्टी कार्ड का डिजिटल वितरण करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Image