सेतु निगम के कर्मचारी नंद लाल की संदिग्ध हालात में मौत मंगलवार को कमरे में पड़ा शव


लखनऊ में हजरतगंज के सिकंदरनगर में किराए के मकान में रहने वाले सेतु निगम के कर्मचारी नंद लाल (50) की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव मंगलवार को कमरे में पड़ा था। मकान मालिक ने मड़ियांव में रहने वाले बेटे को सूचना दी। पुलिस के मुताबिक, सोमवार रात को वह शराब के नशे में था।


इसकी सूचना मकान मालिक ने बेटे को दी थी लेकिन वह पिता की हरकतों से परेशान था। इसलिए नहीं आया। सुबह उसे पिता की मौत की सूचना दी गई।  प्रभारी निरीक्षक हजरतगंज अंजनी कुमार पांडेय के मुताबिक, मूलरूप से सीतापुर के शिवथाना निवासी नंदलाल सेतु निगम कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी के पद पर तैनात था।
वह लक्ष्मण मेला पार्क स्थित सिकंदरनगर में किराए के मकान में रहते थे। जबकि उसकी पत्नी लल्ली देवी बेटा पुनीत वर्मा, सुनील और विनीत मड़ियांव के प्रीतम नगर में अपने मकान में रहते थे। बेटे सुनील के मुताबिक पिता शराब के लती थी। जिसके चलते वह अलग रहते थे और शनिवार व रविवार को घर आते थे। मंगलवार सुबह मकान मालिक ने हजरतगंज पुलिस को सूचना दी कि नंद लाल का शव कमरे में जमीन पर पड़ा है।


पोस्टमार्टम के लिए भेजा शव
सूचना पर लीला चौकी इंचार्ज राहुल सोनकर पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। सूचना पाकर बेटा सुनील भी मौके पर आ गया। मकान मालिक ने बताया कि सोमवार रात नंद लाल शराब के नशे में थे। उनकी हालत देख कर रात में बेटे सुनील को फोन भी किया लेकिन बेटे ने सुबह आने की कहा।


पुलिस का कहना है कि नंद लाल की मौत ज्यादा शराब पीने के चलते हुई है। फिर भी मौत का कारण जानने के लिए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। 


Popular posts
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image
गंदा पानी पीने को मजबूर कस्बा वासी 10 साल बीते नही हो सकी पानी टंकी से सप्लाई
Image
अमरनाथ यात्रा 2021 के लिए 15 अप्रैल से ऑनलाइन अग्रिम यात्री पंजीकरण प्रक्रिया शुरू
Image
बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर नवरात्र व रमजान से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को स्वयं की सुरक्षा व बचाव के लिए जोर दिया
Image
जिला पंचायत के चुनाव में भाजपा ने कड़ा रुख अपनाया, 63 प्रत्याशियों की सूची पार्टी की ओर से किया जारी
Image