सेतु निगम के कर्मचारी नंद लाल की संदिग्ध हालात में मौत मंगलवार को कमरे में पड़ा शव


लखनऊ में हजरतगंज के सिकंदरनगर में किराए के मकान में रहने वाले सेतु निगम के कर्मचारी नंद लाल (50) की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। उसका शव मंगलवार को कमरे में पड़ा था। मकान मालिक ने मड़ियांव में रहने वाले बेटे को सूचना दी। पुलिस के मुताबिक, सोमवार रात को वह शराब के नशे में था।


इसकी सूचना मकान मालिक ने बेटे को दी थी लेकिन वह पिता की हरकतों से परेशान था। इसलिए नहीं आया। सुबह उसे पिता की मौत की सूचना दी गई।  प्रभारी निरीक्षक हजरतगंज अंजनी कुमार पांडेय के मुताबिक, मूलरूप से सीतापुर के शिवथाना निवासी नंदलाल सेतु निगम कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी के पद पर तैनात था।
वह लक्ष्मण मेला पार्क स्थित सिकंदरनगर में किराए के मकान में रहते थे। जबकि उसकी पत्नी लल्ली देवी बेटा पुनीत वर्मा, सुनील और विनीत मड़ियांव के प्रीतम नगर में अपने मकान में रहते थे। बेटे सुनील के मुताबिक पिता शराब के लती थी। जिसके चलते वह अलग रहते थे और शनिवार व रविवार को घर आते थे। मंगलवार सुबह मकान मालिक ने हजरतगंज पुलिस को सूचना दी कि नंद लाल का शव कमरे में जमीन पर पड़ा है।


पोस्टमार्टम के लिए भेजा शव
सूचना पर लीला चौकी इंचार्ज राहुल सोनकर पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे। सूचना पाकर बेटा सुनील भी मौके पर आ गया। मकान मालिक ने बताया कि सोमवार रात नंद लाल शराब के नशे में थे। उनकी हालत देख कर रात में बेटे सुनील को फोन भी किया लेकिन बेटे ने सुबह आने की कहा।


पुलिस का कहना है कि नंद लाल की मौत ज्यादा शराब पीने के चलते हुई है। फिर भी मौत का कारण जानने के लिए शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। 


Popular posts
माघ मेले में रेलवे की तैयारियां 14 दिन के मंथन के बाद भी शून्य, ऐसे में यात्रियों का परेशान होना तय
Image
हरिद्वार में 2021 में प्रस्तावित महाकुंभ का स्वरूप भव्य और दिव्य होने का दिया संकेत
Image
फिल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी व उनकी मां पर करोड़ों की ठगी का आरोप
Image
आईसीसी ने बिश्नोई समेत भारत-बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों पर की कार्रवाई, अंडर-19 वर्ल्ड कप के फाइनल में हुए विवाद के बाद आईसीसी ने उठाया सख्त कदम
स्वामित्व योजना के अंतर्गत तैयार किए गए प्रॉपर्टी कार्ड का डिजिटल वितरण करेंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
Image