2024 में रायबरेली से भी गांधी परिवार का मिट जाएगा अस्तित्व : स्मृति ईरानी

 


कांग्रेस यदि भाजपा कार्यकर्ता व समर्थकों को प्रताड़ित करती रहेगी तो जिस तरह 2019 में अमेठी में कमल खिला उसी तरह 2024 में रायबरेली से भी गांधी परिवार का अस्तित्व मिट जाएगा। अमेठी में पांच दशक तक विकास का जो काम नहीं हो सका वह अब हो रहा है। गांधी परिवार ने सिर्फ अमेठी की भोली जनता का शोषण करने का काम किया है।


अमेठी दौरे के दूसरे दिन डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य की मौजूदगी में जवाहर नवोदय विद्यालय में करीब 80 करोड़ रुपये लागत की 67 परियोजनाओं के लोकार्पण-शिलान्यास करने के बाद केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी गांधी परिवार पर जमकर बरसीं। स्मृति ने कहा कि उन्होंने वर्ष 2014 में अमेठी आकर गांधी परिवार को चुनौती दी तो कांग्रेस की ओर से उन्हें हर क्षण अपमानित व प्रताड़ित करने का प्रयास किया गया।


चेतावनी दी कि यदि कांग्रेस इसी तरह भाजपाइयों को प्रताड़ित करती रही तो कार्यकर्ता 2024 में रायबरेली से भी गांधी परिवार का अस्तित्व मिटा देंगे। पांच दशक तक देश व अमेठी में राज करने वाले गांधी परिवार ने भोली भाली जनता को छलने का काम किया। कहा कि जो काम 50 वर्ष में नहीं हुए वह अमेठी में अब हो रहे हैं।अमेठी के किसानों को 50 साल तक अपने खेतों की सिंचाई के लिए पानी तक नसीब नहीं हो सका। कहा कि गांधी परिवार व कांग्रेस तो चाहती थी कि गरीब जनता मजबूर रहे और वह उन पर राज करते रहें।

गांधी परिवार ने गरीबों के स्वास्थ्य की चिंता नहीं की जबकि मोदी के प्रयास से भारत के इतिहास में पहली बार गरीबों को पांच लाख रुपये तक के निशुल्क इलाज की सुविधा मिली। अमेठी में छह लाख 60 हजार लोगों का आयुष्मान योजना में चयन हुआ। 1.32 लाख लोगों का गोल्डेन कार्ड बना। अब तक अमेठी में 3,594 लोगों का 2.80 करोड़ रुपये का निशुल्क इलाज हुआ है।


गांधी परिवार ने अमेठी के लोगों को स्वस्थ रखने के लिए मेडिकल कॉलेज के नाम पर जमीन हड़पने का काम किया। स्मृति ने 2014 से 2019 तक अमेठी के विकास में राहुल के इशारे पर प्रदेश की अखिलेश सरकार पर भी रोड़ा अटकाने का आरोप लगाया। स्मृति ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने के बाद एक वर्ष में अकेले अमेठी में पांच अरब की विकास योजनाएं धरातल पर उतरीं। लोगों को बिजली, पानी, सड़क, पुल आदि की वह सुविधा मुहैया सकी जो 70 साल तक नसीब नहीं हो सकी।

शहर के जवाहर नवोदय विद्यालय में 80 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास करने के बाद प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी कांग्रेस पर जमकर बरसे। केशव ने कांग्रेस को दलाल व कमीशन बाज बताया। कहा कि दिल्ली से 100 रुपये चलते थे तो 15 ही जनता तक पहुंचते थे। 85 प्रतिशत कांग्रेस के दलाल खा जाते थे।


गरीब व अमीर के बीच का अंतर कांग्रेस कभी नहीं सोच सकती। कांग्रेस तो चाहती थी कि गरीब और गरीब हो जाए। किसान पिसान (आटा) हो जाए। डिप्टी सीएम यहीं नहीं रुके। कहा कि गरीबों को सुख में नहीं पीड़ा में जीवन यापन करने की सोच गांधी परिवार रखता था। केशव ने पीएम मोदी को राष्ट्र ऋषि की संज्ञा दी। कहा, 2014 में मोदी के आते ही जनधन में 14 करोड़ खाते खुल गए।

पहले बिजली के लिए लोग रात-रात जगते थे आज 16 से 18 घंटे बिजली मिल रही है। किसान बिल पर हो रहे प्रदर्शन पर कहा कि कांग्रेस व सपा के संरक्षण में मुट्ठी भर किसान विरोध कर रहे हैं। कहा कि किसानों को गुमराह करने वाले राहुल व अखिलेश को रबी व खरीफ का अंतर तक पता नहीं है। सरकार की ओर से संचालित योजनाओं का जिक्र करते हुए केशव ने एक वर्ष में अमेठी में पांच अरब कीमत की सड़क, पुल व ओवर ब्रिज निर्माण कराने की जानकारी दी।


कहा कि आज भी स्मृति की ओर से एक अरब से अधिक लागत की सड़कों के चौड़ीकरण व मरम्मत का प्रस्ताव मिला है। केशव ने मंच से ही अफसरों को स्मृति की ओर से मिले प्रस्ताव पर आगणन तैयार कराकर अविलंब मुख्यालय भेजने का निर्देश दिया। निर्माणाधीन बड़ी परियोजनाओं को अविलंब पूरा करने को कहा।


कार्यक्रम के दौरान स्मृति व केशव मौर्य ने विभिन्न योजनाओं के तहत लघु उद्योग संचालन के लिए 17 लाभार्थियों को 2.13 करोड़ का चेक प्रदान किया। इसी बीच 17 निशक्तों को ट्राई साइकिल वितरित की गई। मंच से ही जिला प्रशासन की ओर से तैयार कराई गई विकास पुस्तिका का भी विमोचन किया गया।


कार्यक्रम के दौरान मंच पर जिले के प्रभारी मंत्री मोहसिन रजा, राज्यमंत्री सुरेश पासी, विधायक अमेठी गरिमा सिंह, तिलोई विधायक मयंकेश्वर शरण सिंह, जिलाध्यक्ष दुर्गेश त्रिपाठी, काशी प्रसाद तिवारी, डीएम अरुण कुमार, एसपी दिनेश सिंह, सीडीओ डॉ. अंकुर लाठर, एडीएम वंदिता श्रीवास्तव, एक्सईएन आरके चौधरी व संचालक डॉ. रमेश सिंह मौजूद रहे।


कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने शनिवार को अपने ट्विटर हैंडल पर पोस्ट के जरिए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर जोरदार हमला बोला। दीपक ने अमेठी के लोगों की ओर से स्मृति से पांच सवाल कर जवाब मिलने की उम्मीद जताई।


दीपक ने स्मृति से पूछा कि मध्य प्रदेश के उमरिया जिले के मानपुर तहसील के कुचवाही गांव में नेशनल पार्क के पास की जो जमीन आपके पति ने हड़प ली है उसमेें आपकी भागीदारी कितनी है। आपकी सांसद निधि में जो घोटाला हुआ। जिसमें कार्यदायी संस्था से रिकवरी तक का आदेश हुआ।


उसमें आपकी कितनी भागीदारी है। मालविका स्टील फैक्टरी के मशीनों की नीलामी में आपकी कितनी भागीदारी है। आप अमेठीवासियों को 13 रुपये प्रति किलोग्राम चीनी कब से दिलाएंगी। साथ ही दीपक ने स्मृति से यह भी जानना चाहा है कि राहुल गांधी के सांसद रहते गौरीगंज में शुरू किया गया कृषि विज्ञान केंद्र आपकी सरकार में क्यों बंद कर दिया गया। दीपक ने कहा है कि यदि आपने इन सवालों का जवाब नहीं दिया तो मान लिया जाएगा कि इसमेें आपकी निश्चित भागीदारी है।


Popular posts
वीएलसीसी (VLCC) ने उत्तर प्रदेश में २० वर्ष पुरे किए, २० नए वेलनेस सेंटर और १० कौशल विकास संस्थान ( स्किल डेवेलपमेंट इंस्टीटयूट्स ) खोलने के लिए तैयार है।
Image
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को देश के अलग-अलग हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के स्थानांतरण को दी मंजूरी
Image
सपा लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामकुमार निर्मल म्योहर पहुंचे
Image
दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों शीतलहर की चपेट में
Image
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image