जिला पंचायत के चुनाव में भाजपा ने कड़ा रुख अपनाया, 63 प्रत्याशियों की सूची पार्टी की ओर से किया जारी


 जिला पंचायत के चुनाव में भाजपा ने कड़ा रुख अपनाया है। पार्टी से टिकट न मिलने के बाद भी कई पार्टी के कार्यकर्ता मैदान में उतरे हैं। ऐसे 63 प्रत्याशियों की सूची पार्टी की ओर से जारी किया गया है जिन्हें पार्टी से निकाल दिया गया है। इसके अलावा तथ्य छुपाकर सपा नेता को पार्टी में शामिल कराने पर जिलाध्यक्ष से जवाब मांगा गया है। पार्टी में बगावत करने और चालबाजी करने वालों पर सीधी नजर टिकी है। क्षेत्रीय उपाध्यक्ष शेष नरायन मिश्र ने साफ कहा है कि पंचायत चुनाव में किसी की भी मनमानी बर्दाश्त नही होगी।

जिला पंचायत चुनाव में भाजपा बहुत ही सधे पांव रख रही है। टिकट बंटवारे में बड़ों को आंख दिखाने के बाद बगावत करके चुनाव लड़ने वालों पर शिकंजा कसा है। एक साथ ही 63 लोगों को पार्टी से बाहर कर दिया और कहा कि प्रचार सामग्री में पार्टी के किसी नेता की फोटो हो तो कार्रवाई कराएं। सपा नेता पंकज सिंह को बीते दिनों पार्टी में शामिल कराने के मामले में जिलाध्यक्ष सूर्य नरायन तिवारी को चेतावनी भी मिली है।



आरोप है कि तथ्य छुपाकर पंकज सिंह को पार्टी में शामिल करा दिया गया। उनकी सदस्यता तत्काल निरस्त कर दिया गया है। जिलाध्यक्ष को प्रदेश कार्यालय को जवाब भेजने का निर्देश दिया गया है। साफ कहा गया है कि यह विश्वासघात है। माना जा रहा है कि पार्टी में पंकज सिंह वजीरगंज के ब्लाक प्रमुख चुनाव व जिला पंचायत सदस्य की एक सीट पर प्रभाव बनाने के लिए शामिल हुए थे। इसकी खबर प्रदेश स्तर पर पहुंचने के बाद कार्रवाई हुई है।

बागी प्रत्याशियों पर कड़ा रुख अपनाएगी भाजपा

बागी प्रत्याशियों के प्रति कड़ा तेवर अपनाते हुए उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई  की जाएगी। यह बात सोमवार को समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री ने आरपी आदर्श इंटर कॉलेज के सभागार में प्रेसवार्ता के दौरान कही। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर उन्होंने कहा कि विकास के लिए भाजपा जरूरी है। भाजपा समर्थित जिला पंचायत सदस्यों को जिताने की लोगों से अपील की। उन्होंने योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा संगठन व पार्टी का निर्देश सर्वोपरि है।


पार्टी से घोषित प्रत्याशी ही पार्टी का बैनर व झंडा लगाएंगे। बिना पार्टी के अनुमति के किसी भी प्रत्याशी के झंडा बैनर लगाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इस मौके पर गौरा विधायक प्रभात कुमार वर्मा, राजकिशोर कश्यप उर्फ बमबम, श्रवण कुमार शुक्ला, पूर्व प्रमुख यूपी सिंह, हरीश पांडेय, पंकज सिंह, कमलेश पांडेय, जिला पंचायत प्रत्याशी पीयूष मिश्रा, प्रमोद चंचल आर्य, जनार्दन वर्मा, राम निवास वर्मा, उदयराज वर्मा, जयप्रकाश सिंह, केके उपाध्याय, सुधांशु गुप्ता, दिनेश पांडेय, ज्ञानेंद्र चौधरी, देव मणि तिवारी आदि रहे।


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को नारदा घोटाला मामले में आरोपी टीएमसी नेताओं को नजरबंद करने के कलकत्ता हाईकोर्ट के फैसले में दखल देने से इनकार कर दिया
Image
मौसी के घर रह रहे बालक की बुधवार को मौसा ने हत्या कर गांव के ही कब्रिस्तान में शव दफनाया
Image
नाबालिग बेटी बोली जब से लॉकडाउन हुआ है तब से पिता रोजाना जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाता है
Image
उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद शैक्षणिक कैलेंडर जारी
Image