जिलाधिकारी ने राजकीय महिला चिकित्सालय, कबीरचौरा परिसर में नवनिर्मित 100 बेड के महिला विंग में बनाये जा रहे नये कोविड-19 के सस्पेक्टेड पेशेन्ट वार्ड का किया निरीक्षण

वाराणसी।  मरीज कोई भी कहीं से भी आये उसका समुचित इलाज होना चाहिए, इसमें कोई कोताही नहीं बरती जाय-कौशल राज शर्मा।


डाक्टरों व सभी मेडिकल स्टाफ के लिए जो भी सुरक्षात्मक वस्तुओं की आवश्यकता पड़ेगी, उसे अवश्य मुहैय्या कराया जायेगा।


जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा ने गुरुवार को राजकीय महिला चिकित्सालय, कबीरचौरा परिसर में नवनिर्मित 100 बेड के महिला विंग अस्पताल में बनाये जा रहे नये कोविड-19 के सस्पेक्टेड पेशेन्ट वार्ड का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने इसे शीघ्र चालू कराने हेतु मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया। उन्होंने यहां आने वाले मरीजों की पहचान सुनिश्चित कराने के लिए एक मेडिकल स्टाफ को बैठाने का निर्देश दिया, जो सम्बंधित थाने से यह वेरिफाई करायेगा कि आने वाला मरीज हाट-स्पाट एरिया से वास्तव में सम्बंधित है या अन्य किसी क्षेत्र का रहने वाला है। उनका स्पष्ट निर्देश है कि मरीज कोई भी कहीं से भी आये उसका समुचित इलाज होना चाहिए, इसमें कोई कोताही नहीं बरती जानी चाहिए।
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जो डाक्टर या स्टाफ किसी तरह की अफवाह फैला रहे हैं और मरीज का इलाज करने में हीलाहवाली व कोताही कर रहे हैं, उन्हें चिन्हित करके उनके खिलाफ आपदा नियमों के तहत कड़ी कार्यवाही की जाएगी। डाक्टरों व सभी मेडिकल स्टाफ के लिए जो भी सुरक्षात्मक वस्तुओं की आवश्यकता पड़ेगी, उसे अवश्य मुहैय्या कराया जायेगा। चिकित्सकों एवं चिकित्सा स्टाफ को निर्देशित करते हुए कहा कि आप लोग अपनी सुरक्षा अच्छी तरह से करें। पीपी किट, सेनिटाइज़र, मास्क, दवायें सभी चीजें तैयार रखें। पीपी किट की कमी की जानकारी होने पर मौके पर सीएमओ को निर्देशित किया कि 200 पीपी किट आज ही उपलब्ध करायें। जिससे ओटी करने में सुरक्षा बनी रहे। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी मेडिकल स्टाफ को नियमानुसार हाइड्राक्सीक्लोरोक्वीन की टैबलट डाक्टर अपने सामने खिलवायें। इसके अतिरिक्त होम्योपैथ तथा आयुर्वेदिक काढ़ा भी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए जो स्टाफ प्रयोग करना चाहे, वह भी उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने नये पेशेंट वार्ड को अग्नि शमन विभाग की स्प्रे मशीन द्वारा हाइपोक्लोराइड सल्यूशन का छिड़काव करा कर सारी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।


Popular posts
वीएलसीसी (VLCC) ने उत्तर प्रदेश में २० वर्ष पुरे किए, २० नए वेलनेस सेंटर और १० कौशल विकास संस्थान ( स्किल डेवेलपमेंट इंस्टीटयूट्स ) खोलने के लिए तैयार है।
Image
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को देश के अलग-अलग हाईकोर्ट के न्यायाधीशों के स्थानांतरण को दी मंजूरी
Image
सपा लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामकुमार निर्मल म्योहर पहुंचे
Image
दिल्ली-एनसीआर समेत पूरा उत्तर भारत इन दिनों शीतलहर की चपेट में
Image
राष्ट्रीय क्षय रोग उन्मूलन एवं कालाजार ( विश्लेरल लिश्मेनिएसिस ) उन्मूलन कार्यक्रम की जिला स्तरीय वर्चुवल समीक्षा।
Image