कोरोना महामारी के दौरान भी बीते आठ माह में प्रदेश में 8 लाख 80 हजार 500 ग्रामीण महिलाओं को मिला रोजगार


कोरोना महामारी के दौरान भी बीते आठ माह में प्रदेश में 8 लाख 80 हजार 500 ग्रामीण महिलाओं को रोजगार दिया गया। उन्हें राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत शुरू किए गए नए कार्यों में रोजगार उपलब्ध कराया गया है।


मिशन के निदेशक सुजीत कुमार के अनुसार नए कार्यों में लगे समूह की प्रत्येक महिला को हर महीने औसतन पांच से सात हजार रुपये महीने तक आय हो रही है। सबसे ज्यादा 6.80 लाख रोजगार आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषाहार के वितरण में उपलबध कराया गया।
कोरोना काल में ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार का संकट आने पर प्रदेश सरकार ने मिशन की महिलाओं के लिए आंगनबाड़ी केंद्रों को पोषाहार वितरण, बिजली के बिल वितरण एवं वसूली, मास्क एवं सैनिटाइजर बनाने, दुग्ध उत्पादन कंपनी, स्कूल यूनिफार्म बनाने, बैंकिंग सखी, कैंटीन संचालन जैसे कार्य सौंपे।
मिशन में इस वर्ष प्रदेश के लिए 1965 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया गया है। केंद्र ने 394.77 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं। वहीं, मिशन के बास गत वित्तीय वर्ष का 388.62 करोड़ रुपये बचा हुआ था।


Popular posts
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
आगरा के एसएन मेडिकल कॉलेज में ब्लैक फंगस के मरीजों की संख्या तेजी, शनिवार शाम साढ़े सात बजे तक 17 मरीज भर्ती हो चुके थे। इसमें से 12 मरीज गंभीर
Image
काशी विश्वनाथ मंदिर में आने वाले भक्तों को किसी प्रकार की परेशानी हुई तो नपेंगे अधिकारी, मंडलायुक्त ने दी चेतावनी
Image
29 अगस्त को अयोध्या जाएंगे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, 26 अगस्त से तीन दिवसीय दौरा शुरू होगा
Image
जायसवाल समाज की निराश्रित महिलाओं का पेंसन वितरण कार्यक्रम सम्पन्न
Image