पहाड़ों पर बर्फबारी बारिश के बाद से वहां से आने वाली पछुआ हवाएं प्रदेश में गलन भरी ठंड शीत के साथ घने कोहरे से रूबरू कराएंगे


 बीते तीन-चार दिनों से गुनगुनी राहत का अहसास करा रहा मौसम साल गुजरने से पहले गलन भरी ठंड से रूबरू कराने के मूड में है। मौसम विज्ञानियों ने अनुमान जताया है कि पहाड़ों पर बर्फबारी बारिश के बाद से वहां से आने वाली पछुआ हवाएं प्रदेश में गलन भरी ठंड शीत के साथ घने कोहरे से रूबरू कराएंगे। 


आंचलिक मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक जेपी गुप्ता ने शनिवार को बताया कि फिलहाल प्रदेश में ड्राइ वेदर कंडीशन एक्टिव हैं, मौसम शुष्क है। धूप खिलने और आसमान साफ होने से राहत है।  लेकिन पहाड़ों पर एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। 


अगले 24-36 घंटे में पहाड़ों पर बर्फबारी बारिश होने के आसार हैं। उसके बाद वहां से आने वाली उतर पछुआ हवाएं गलन भरी ठंड बढ़ा देंगी। दिन और रात का तापमान सरकना शुरू होगा। प्रदेश के कई हिस्सों में शीतलहर भी दस्तक देगी। 

प्रदेश के पूर्वी हिस्सों और पश्चिमी हिस्सों में कई जगह घना कोहरा भी पड़ सकता है। मंगलवार बुधवार से यह बदलाव प्रदेश में कई जगह दिखने शुरू हो जाएंगे। तब तक मौसम लगभग सामान्य बना रह सकता है। 

उधर, इन सबके बीच प्रदेश में चुर्क 3.2 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे ठंडा स्थान दर्ज किया गया। नजीबाबाद 4.5 और मुजफ्फरनगर 4.8 डिग्री के साथ कई शहरों का न्यूनतम तापमान 5 से 7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

Popular posts
कन्या राशि वालों के घर-परिवार में रहेगा सुख-शांति का माहौल, कर्क राशि वाले रहें इस काम से सावधान, आइए जानते हैं आज के राशिफल के बारे में
ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में सीबीआई कोर्ट के फैसले को हाईकोर्ट में देगा चुनौती
Image
लखनऊ के अशोक मार्ग पर गोमती के ऊपर संकल्प वाटिया फ्लाईओवर पर शुक्रवार तड़के ओवरलोड ट्रक पलट
Image
अखिल भारतीय जायसवाल सर्ववर्गीय महासभा द्वारा दिल्ली में केंद्रीय मंत्री श्रीपाद यशो नायक के दीर्घायु के लिए महामृत्युंजय जाप किया गया
Image
खेल से होता है मानसिक और शारिरिक विकास : मनोज गुप्ता
Image